प्रेस प्रकाशनी

भारतीय रिज़र्व बैंक ने आम जनता को सावधान किया कि वे अपने नाम में भेजे गए फि‍शिंग मेल का जवाब न दें

15 अक्‍टूबर 2012

भारतीय रिज़र्व बैंक ने आम जनता को सावधान किया कि वे
अपने नाम में भेजे गए फि‍शिंग मेल का जवाब न दें

भारतीय रिज़र्व बैंक को जानकारी मिली है कि इसके नाम में मेल आइडी : Reserve Bank Of India < no-reply@rbi.com > से एक मेल भेजा गया है तथा " विभिन्‍न बैंकिंग प्रणाली में धोखाधड़ी और चोरी में कमी करने...(और)...अभिरक्षित और सुरक्षित रहने के लिए सभी भारतीय बैंकों में सभी ग्राहकों की ऑनलाइन बैंकिंग को सुविधा प्रदान करने के लिए" "नेटसिक्‍योर्ड" नामक एक 'नई ऑनलाइन सुरक्षा अभिरक्षा' का प्रस्‍ताव करते हुए भारतीय रिज़र्व बैंक, सुरक्षा दल द्वारा इस पर हस्‍ताक्षर किया गया है।

रिज़र्व बैंक आम जनता को सावधान करता है कि इसने न तो ऐसा कोई सा़फ्टवेयर विकसित किया है और नहीं ऑनलाइन बैंकिंग ग्राहकों से उनके ऑनलाइन खातों को सुरक्षित करने के लिए उनके खातों के अद्यतन ब्‍योरे की मॉंग करते हुए ऐसा कोई मेल भेजा है। वास्‍तव में रिज़र्व बैंक के पास @rbi.com विस्‍तार के साथ कोई मेल आइडी नहीं है।

ऐसे मेल प्राप्‍त करने वाली आम जनता संलग्‍नक नहीं खोले और/अथवा अपने कंप्‍यूटरों पर इस संलग्‍नक को डाउनलोड करने का प्रयास न करे। यह एक फि‍शिंग मेल है और किसी भी तरीके से इस मेल तक पहुँच से पहचान की चोरी हो सकती है।

आर.आर.सिन्‍हा
उप महाप्रबंधक

प्रेस प्रकाशनी : 2012-13/634


2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष