प्रेस प्रकाशनी

2018-19 की चौथी तिमाही में निजी कॉर्पोरेट कारोबार क्षेत्र का कार्य निष्पादन

10 जुलाई 2019

2018-19 की चौथी तिमाही में निजी कॉर्पोरेट कारोबार क्षेत्र का कार्य निष्पादन

आज, रिज़र्व बैंक ने 2018-19 की चौथी तिमाही के दौरान 2,701 सूचीबद्ध गैर-सरकारी गैर-वित्तीय (एनजीएनएफ़) कंपनियों के संक्षिप्त वित्तीय परिणामों से लिए गए निजी कॉर्पोरेट क्षेत्र के प्रदर्शन पर डेटा जारी किया। तुलना करने हेतु चौथी तिमाही: 2017-18 और तीसरी तिमाही: 2018-19 से संबंधित डेटा भी सारणियों में प्रस्तुत किया गया हैं। डाटा को https://dbie.rbi.org.in/DBIE/dbie.rbi?site=statistics#!2_42 पर एक्सेस किया जा सकता है।

मुख्य-मुख्य बातें

बिक्री

  • मुख्य रूप से पेट्रोलियम उत्पादों की बिक्री में संकुचन और मोटर वाहनों और अन्य मोटर परिवहन कंपनियों द्वारा सामना की जाने वाली मांग में कमी के कारण विनिर्माण क्षेत्र में मांग की स्थिति कमजोर होने पर बिक्री वृद्धि (वर्ष-दर-वर्ष) में तेज कमी परिलक्षित हुई ।

  • खाद्य उत्पादों एवं पेय पदार्थों और वस्त्रों के लिए बिक्री वृद्धि में सुधार हुआ, जबकि यह सीमेंट एवं सीमेंट उत्पादों और औषधि के लिए स्थिर और दोहरे अंकों में रहा।

  • सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) क्षेत्र की बिक्री में वृद्धि व्यापक रूप से अपरिवर्तित रही; जबकि यह परिवहन और भंडारण सेवाओं के उद्योगों के लिए बेहतर रही और दूरसंचार क्षेत्र के मामले में संकुचन क्षेत्र से बाहर निकली।

व्यय

  • चौथी तिमाही: 2018-19 में पण्य की कीमतों में कमी के अनुसरण में विनिर्माण कंपनियों के लिए इनपुट लागत (अर्थात् कच्चे माल) कम हो गयी।

  • विनिर्माण क्षेत्र ने भी मुख्य रूप से मोटर वाहनों एवं अन्य परिवहन उपकरणों और लौह और इस्पात उद्योगों में कर्मचारियों की लागत वृद्धि में मंदी का अनुभव किया, जबकि सेवा क्षेत्र ने कर्मचारियों की लागत में उच्च वृद्धि का अनुभव जारी रखा।

परिचालनगत लाभ

  • विनिर्माण क्षेत्र में परिचालनगत लाभ वृद्धि में उत्पादन के मूल्य में कम वृद्धि के कारण गिरावट हुई।

  • सेवा (गैर-आईटी) क्षेत्रों ने परिवहन और भंडारण सेवा उद्योगों द्वारा सहायता प्राप्त परिचालन लाभ वृद्धि के मामले में सुधार के संकेत दिए।

ब्याज

  • चौथी तिमाही: 2018-19 में विनिर्माण क्षेत्र ने क्रमिक आधार पर ब्याज व्यय वृद्धि (वर्ष-दर-वर्ष) में अल्प वृद्धि दर्ज की, लेकिन यह अभी भी वर्ष-दर-वर्ष आधार पर स्थिर रही।

  • विनिर्माण क्षेत्र के ब्याज कवरेज अनुपात (आईसीआर) में पिछली तिमाही में देखे गए स्तर से सुधार आया; जबकि ब्याज व्यय में वृद्धि के कारण सेवा (गैर-आईटी) क्षेत्रों के लिए आईसीआर में गिरावट आई।

मूल्‍यनिर्धारण क्षमता

  • विनिर्माण क्षेत्र के लिए परिचालनगत मार्जिन के मामले में मूल्यनिर्धारण क्षमता स्थिर रही; गैर-परिचालनगत आय से समर्थन की कमी के कारण निवल लाभ मार्जिन में गिरावट आई।

  • मजबूत मांग की स्थिति के कारण सेवा (गैर-आईटी) क्षेत्रों के परिचालन लाभ मार्जिन में वृद्धि हुई; तथापि, दूरसंचार कंपनियों द्वारा भारी नुकसान के कारण इस क्षेत्र द्वारा दर्ज निवल लाभ मार्जिन नकारात्मक हो गया।

सारणियों की सूची
सारणी सं. शीर्षक
1 गैर-सरकारी गैर-वित्तीय कंपनियों का कार्यनिष्पादन वृद्धि दरें
चयनित अनुपात
2 गैर-सरकारी गैर-वित्तीय कंपनियों का कार्यनिष्पादन - क्षेत्र-वार वृद्धि दरें
चयनित अनुपात
3 गैर-सरकारी गैर-वित्तीय कंपनियों का चुकता पूंजी के आकार के अनुसार कार्यनिष्पादन वृद्धि दरें
चयनित अनुपात
4 गैर-सरकारी गैर-वित्तीय कंपनियों का बिक्री आकार के अनुसार कार्यनिष्पादन वृद्धि दरें
चयनित अनुपात
5 गैर-सरकारी गैर-वित्तीय कंपनियों का उद्योग के अनुसार कार्यनिष्पादन वृद्धि दरें
चयनित अनुपात
व्याख्यात्मक टिप्पणियां
शब्दावली

नोट:

  • परिणामों की घोषणा की तारीख के आधार पर, विभिन्न तिमाहियों में कंपनियों का कवरेज भिन्न होता है; तथापि, इससे सकल स्थिति में काफी बदलाव की उम्मीद नहीं है।

  • डाटा संकलन के लिए कार्यप्रणाली वाले व्याख्यात्मक नोट, और शब्दावली (संशोधित परिभाषा और गणना जो पिछले रिलीजों से अलग हैं सहित) अंत में दी गई हैं।

अजीत प्रसाद
निदेशक (संचार)

प्रेस प्रकाशनी: 2019-2020/110


2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष