बैंकिंग प्रणाली का विनियामक

बैंक राष्‍ट्रीय वित्‍तीय प्रणाली की नींव होते हैं। बैंकिंग प्रणाली की सुरक्षा एवं सुदृढता को सुनिश्चित करने और वित्‍तीय स्थिरता को बनाए रखने तथा इस प्रणाली के प्रति जनता में विश्‍वास जगाने में केंद्रीय बैंक महत्‍वपूर्ण भूमिका अदा करता है।

प्रेस प्रकाशनी


सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों पर समिति की रिपोर्ट

18 जून 2019

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों पर समिति की रिपोर्ट

भारतीय रिज़र्व बैंक ने जनवरी 2019 में श्री यू. के. सिन्हा की अध्यक्षता में एमएसएमई क्षेत्र की आर्थिक और वित्तीय स्थिरता के लिए दीर्घकालिक समाधान सुझाने हेतु ‘सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों पर एक विशेषज्ञ समिति’ का गठन किया था।

समिति में शामिल थे :

1. श्री यू.के. सिन्हा
भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष
अध्यक्ष
2. श्री राम मोहन मिश्रा
अतिरिक्त सचिव, विकास आयुक्त एमएसएमई
सदस्य
3. श्री पंकज जैन
अतिरिक्त सचिव, वित्तीय सेवा विभाग, वित्त मंत्रालय
सदस्य
4. श्री पी.के. गुप्ता
प्रबंध निदेशक, एसबीआई
सदस्य
5. श्री अनूप बागची
कार्यपालक निदेशक, आईसीआईसीआई बैंक
सदस्य
6. श्री अभिमान दास
प्रोफेसर, आईआईएम-अहमदाबाद
सदस्य
7. श्री शरद शर्मा
सह-संस्थापक, आईएसपीआईआरटी फाउंडेशन
सदस्य
8. सुश्री बिंदू अनंत
अध्यक्ष, दवारा ट्रस्ट
सदस्य

समिति ने विभिन्न हितधारकों के साथ परामर्श किया और अपने विचार भी रखे । समिति ने आज अपनी रिपोर्ट गवर्नर, भारतीय रिज़र्व बैंक को सौंप दी।

योगेश दयाल
मुख्य महाप्रबंधक

प्रेस प्रकाशनी: 2018-2019/2973

2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष