प्रेस प्रकाशनी

भारतीय रिज़र्व बैंक ने अपने नाम पर फर्जी वेबसाइट के बारे में चेतावनी दी

26 मई 2014

भारतीय रिज़र्व बैंक ने अपने नाम पर फर्जी वेबसाइट के बारे में चेतावनी दी

आज भारतीय रिज़र्व बैंक के संज्ञान में आया है कि कुछ अज्ञात व्यक्तियों द्वारा http://www.rbi-inonline.org/savings.html पर फर्जी वेबसाइट बनाई गई है जो विभिन्न बैंकिंग सुविधाओं का प्रस्ताव करती है और आम जनता से “आरबीआई बचत खाता” खोलने के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए कहती है।

रिज़र्व बैंक स्पष्ट करता है कि भारत के केंद्रीय बैंक के रूप में भारतीय रिज़र्व बैंक वाणिज्यिक बैंकों द्वारा उपलब्ध कराई जाने वाली सेवाओं जैसे बचत बैंक खाता, चालू बैंक खाता या क्रेडिट कार्डों का प्रस्ताव नहीं करता है। अतः रिज़र्व बैंक द्वारा फर्जी वेबसाइट पर दर्शाई गई ऑनलाइन बैंकिंग सेवा प्रदान करने का प्रश्न ही नहीं उठता है। रिज़र्व बैंक ने आम जनता को सावधान किया है कि वे फर्जी वेबसाइट पर झूठे प्रस्तावों का शिकार न बनें। रिज़र्व बैंक ने आम जनता को इस बात के लिए भी सावधान किया है कि उस वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन करने का परिणाम अपनी महत्वपूर्ण व्यक्तिगत सूचना से समझौता करना हो सकता है जिसका उन्हें वित्तीय और अन्य हानि पहुंचाने के लिए दुरुपयोग किया जा सकता है।

आम व्यक्ति भारतीय रिज़र्व बैंक की कार्यालयीन वेबसाइट पर पूर्व में जारी प्रेस प्रकाशनी देख सकते हैं जिन्हें रिज़र्व बैंक या इसके गवर्नर और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के नाम पर भेजे गए भारी राशि वाले विभिन्न फर्जी प्रस्तावों के बारे में अतिरिक्त सूचना के लिए तथा ऐसे प्रस्तावों पर कार्रवाई करने हेतु स्क्रोलिंग हेडलाइन के रूप में उपलब्ध कराया गया है।

अजीत प्रसाद
सहायक महाप्रबंधक

प्रेस प्रकाशनी : 2013-2014/2290


2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष